NCERT Class 3 Hindi Seventh Chapter टिपटिपवा Exercise Question Solution

NCERT Class 3 Hindi Seventh Chapter Tiptipba Exercise Question Solution

टिपटिपवा

कौन – किससे परेशान ?

इस कहानी में लगता है सभी परेशान थे। बताओ कौन-किससे परेशान था?

बुढ़िया – झोपड़े में टपकते पानी से

बाघ  – टिपटिपवा शब्द से और वर्षा से

धोबी  – अपने गधे से

पंडित जी  – घर में पानी भरने और उसे निकालने से जी

मतलब बताओ

निचे कहानी में से कुछ वाक्य दिए गए हैं। इन्हें अपने शब्दों में लिखों।

(१) टिपटिपवा कौन – सी बला है ?

Ans :- ये क्या बला है टिपटिपवा।

(२) पत्नी की बात धोबी को जँच गई।

Ans :- धोबी को पत्नी की बात समझ में आ गई।

(३) बाघ बिना चूँ – चपड़ किए भीगी बिल्ली बना धोबी के पीछे – पीछे चल दिया

Ans :- बाघ चुपचाप भीगी बिल्ली बनकर धोबी के पीछे चल दिया।

(४) जरा पोथी बाँच कर बताइए वह कहाँ है ?

Ans :- ज़रा पोथी में देखकर बताइए वह कहाँ है।

याद करो तो

पोता दादी की गोद में कहानी सुनने के लिए मचल रहा था। तुम किन-किन चीज़ों के लिए मचलते हो?

कौन है टिपटिपवा

हाँ बचवा, न शेरवा के डर, न बघवा के डर। डर त डर, टिपटिपवा के डर।

(१) तुम्हारे घर की बोली में इस बात को कैसे कहेंगे?

(२) कहानी में टिपटिपवा कौन था? तुम किस-किस को टिपटिपवा कहोगे?

Ans :- इस कहानी में टिपटिपवा झोपड़ी में बारिश का टपकता हुआ पानी था। लेकिन यहाँ धोबी और उसके लट्ठ ने टिपटिपवा का काम किया है। अतः हम इन्हें ही टिपटिपवा कहेंगे।

बारिश

यह कहानी एक ऐसे दिन की है जब मूसलधार बारिश हो रही थी। अगर मूसलधार बारिश की बजाए बूँदा – बाँदी होती , तो क्या होता ? यदि उस रात बूँदा – बाँदी होती तो ……..

तरह तरह की आवाजें

पानी के टपकने की टिपटिप – टिपटिप आवाज आ रही थी।

सोचो और लिखो ये आवाजें कब सुनाई पड़ती हैं।

खर्र – खर्र — तेज सांस आने पर

भिन – भिन — मक्खी के आस पास मड़राने पर

चर्र – चर्र — पुराने दरवाजा खुलने पर

भक – भक — बहुत तेज आग लगने पर

ठक – ठक — दरवाजा खटखटाने पर

तड़ – तड़ — वर्षा की तेज व बड़ी बूदें टिन की छत पर गिरने से

खूँटा

धोवी ने बाघ को खूँटे से बाँध दिया। सोचो और बताओ , खूँटे से क्या – क्या बाँधा जाता है ?

Ans :- खूँटे से गाय, भैंस, बकरी, घोड़ा, बैल, ऊँट सभी पालतू जानवर बाँधे जाते हैं।

एक से ज्यादा

एक कहानी  –  सभी कहानियाँ

एक तितली  – कई तितलियाँ

एक पत्ती –  दस पत्तियाँ

एक चूड़ी – ढेरों चूड़ियाँ

एक खिड़की — चार खिड़कियाँ


Leave a Reply

Your email address will not be published.