NCERT Class 3 Hindi Eight Chapter बंदर – बाँट Exercise Question Solution

NCERT Class 3 Hindi Eight Chapter Bandar Bant Exercise Question Solution

बंदर – बाँट

लड़ाई – झगड़ा

(१) दोनों बिल्लियों के बीच झगड़े की जड़ क्या थी?

उनके झगड़े का हल कैसे निकाला गया?

Ans :- दोनों बिल्लियों के झगड़े की जड़ रोटी का टुकड़ा था। दोनों उस पर अपना हक जता रहीं थीं। बंदर ने तराजू निकाला और समान बँटवारा करते हुए सारी रोटी स्वयं खा ली।

(२) तुम किस-किस के साथ अक्सर झगड़ते हो?

झगड़ते समय तुम क्या-क्या करते हो?

जब तुम किसी से झगड़ते हो तो तुम्हारा फ़ैसला कौन करवाता है?

जुले

लेह में लोग एक-दूसरे से मिलने पर एक-दूसरे को जूले कहते हैं। मिलने पर दोनों बिल्लियाँ एक-दूसरे को नमस्ते कहती हैं।

(१) तुम इन लोगों से मिलने पर क्या कहती हो?

तुम्हारी सहेली/दोस्त — हैलो, हाय, कैसे हो आदि कहते हैं।

तुम्हारे शिक्षक — नमस्ते या गुडमॉर्निंग सर कहते हैं।

तुम्हारी दादी/नानी — नमस्ते/ चरण स्पर्श/ राम-राम/ जय श्री कृष्णा कहते हैं।

तुम्हारे बड़े भाई/बहन — नमस्ते/ गुडमॉर्निंग/ हैलो कहते हैं।

तुम्हें क्या लगता है

(१) अगर बंदर बीच में नहीं आता तो तुम्हारी राय में रोटी किस बिल्ली को मिलनी चाहिए थी?

(२) बंदर ने बिल्लियों से यह सवाल क्यों पूछा होगा कि उन्होंने रोटी

एक आँख से देखी थी या दोनों आँखों से?

एक टाँग से झपटी थी या दोनों टाँगों से?

Ans :- बंदर दोनों बिल्लियों को मूर्ख बनाकर यह बताना चाहता था कि वह सही न्याय करेगा।

बदर – बाँट

(१) कहानी का शीर्षक बंदर-बाँट क्यों है?

Ans :- कहानी का शीर्षक बंदर बाँट रखा गया है क्योंकि बंदर दोनों बिल्लियों में रोटी बराबर बाँटने वाले की भूमिका निभाता  है। बंदर अपनी चतुराई से रोटी भी खा जाता है और दोनों का भला भी बन जाता है। इस तरह कहानी का मुख्य पात्र वह बन जाता है।

(२) तुम नाटक को क्या नाम देना चाहोगी?

माप – तोल

(१) बंदर ने रोटी बराबर बाँटने के लिए तराज़ू का इस्तेमाल किया। तराज़ू का इस्तेमाल चीज़ों को तोलने के लिए करते हैं। नीचे दी गई चीज़ों में से किन चीज़ों को तोलकर खरीदा जाता है?                                                                                                                   

Ans:- तरबूज़, काशीफल, चावल।

(२) बाट तोली जाने वाली चीज़ का वज़न बताता है। वज़न किलोग्राम या ग्राम में बताया जाता है। पता करो बाज़ार में कितने किलोग्राम या ग्राम के बट्टे मिलते हैं। (फलवाले, सब्ज़ीवाले या परचून की दुकान से पता कर सकते हो।)

Ans :- 1 किलो, 2 किलो, 5 किलो, 500 ग्राम, 250 ग्राम, 100 ग्राम, 50 ग्राम, 20 ग्राम, 10 ग्राम, 10 व 20 किलो व 50 किलो।

आगे – पीछे

मुझे महक रोटी की आती।

इस वाक्य को इस तरह भी लिख सकते हैं –

मुझे रोटी की महक आती।

तुम भी इसी तरह नीचे दिए वाक्यों के शब्दों को आगे-पीछे करके लिखो–

(१) उसी खोज में मैं भी निकली।

Ans :- मैं भी उसी खोज में निकली।

(२) रखी मेज़ पर है वो रोटी।

Ans :- वो रोटी मेज पर रखी है।

(३) डरती थी उस तक जाने में।

Ans :- उस तक जाने में डरती थी।

(४) मैं ले जाने तुझे न दूँगी।

Ans :- मैं तुझे ले जाने न दूँगी

(५) जो पहले देखे हक उसका है रोटी पर।

Ans :- रोटी पर उसका हक है जो पहले देखे

एक और बँटवारा

(१) अगले दिन दोनों बिल्लियों को एक तरबूज़ मिला। दोनों सोचने लगीं, इस तरबूज़ को कैसे बाँटा जाए कि तभी फिर से बंदर आ गया। आगे क्या हुआ होगा?

Ans :- अगले दिन तरबूज़ लेकर बिल्लियाँ जा रही थीं तभी बंदर आ गया। वह बोला- ”लाओ बँटवारा कर दूँ।” अब की बार बिल्लियाँ बंदर के झाँसे में नहीं आईं। वे तुरंत बोलीं- ”तुम्हारा न्याय हम देख चुके हैं। तुम जा सकते हो हम अपने आप ही बाँटकर खा लेगीं।” यह कहकर वे चली गईं। बंदर अपना-सा मुँह लेकर रह गया।

 


Leave a Reply

Your email address will not be published.