NCERT Class 9 Hindi Sanchayan Fifth Chapter हामिद खाँ Exercise Question Solution

NCERT Class 9 Hindi Sanchayan Fifth Chapter Hamid Khan Exercise Question Solution

हामिद खाँ

(1) लेखक का परिचय हामिद खाँ से किन परिस्थितियों में हुआ ?

Ans :- एक बार गर्मियों में लेखक तक्षशिला के खंडहर देखने गया था।गर्मी के कारण लेखक का भूख प्यास से बुरा हाल था। लेखक खाने की तलाश में रेलवे स्टेशन से आगे बसे गाँव की ओर चला गया। वहाँ मच्छर और गंदी गलियों से भरा बाज़ार था, वहाँ पर खाने पीने का कोई होटल या दुकान नहीं दिखाई दे रही थी । लेखक को अचानक एक दुकान नजर आई जहाँ  रोटियाँ सेंकी जा रही थीं जिसकी खुशबू से लेखक की भूख और बढ़ गई। लेखक दुकान में चला गया और खाने के लिए माँगा। वहीं हामिद खाँ से परिचय हुआ।

(2) ‘काश मैं आपके मुल्क में आकर यह सब अपनी आँखों से देख सकता। ‘ — हामिद ने ऐसा क्यों कहा ?

Ans :- हामिद खाँ को पता चला कि लेखक हिंदू है तो हामिद ने पूछा − क्या वह मुसलमानी होटल में खाएँगे। तब लेखक ने कहा क्यों नहीं ? हमारे यहाँ तो अगर  बढ़िया चाय पीनी हो , या बढ़िया पुलाब खाना हो तो लोग बेखटके मुसलमानी होटल में जाया करते हैं। ” वह लेखक के बात पर विश्वास नहीं कर पाया। तब लेखक ने उसे गर्व के साथ बताया , ” हमारे यहाँ हिंदू – मुसलमान में कोई फ़र्क नहीं है ! सब मिल – जुलकर रहते हैं ! भारत में मुसलमानों ने जिस पहली मस्जिद का निर्माण किया था , वह हमारे ही राज्य के एक स्थान ‘कोडुंगल्लूर’ में है। हमारे यहाँ हिंदू – मुसलमानों के बीच दंगे नहीं के बराबर होते हें। ” उसने लेखक की बात को बहुत ही ध्यानपुर्बक सुनकर कहा. ” काश ! मैं आपके मुल्क में आकर यह सब  अपनी आँखों से देख सकता। ”

(3) हामिद को लेखक की किन बातों पर विश्वास नहीं था ?

Ans :- लेखक ने हामिद को कहा कि वह बढ़िया खाना खाने मुसलमानी होटल जाते हैं। वहाँ हिंदू–मुसलमान में कोई फर्क नहीं किया जाता है। हिंदू–मुसलमान दंगे भी न के बराबर होते हैं तो हामिद को विश्वास नहीं हुआ। वह अपनी आँखों से यह सब देखना चाहता था।

(4) हामिद खाँ ने खाने का पैसा लेने से इंकार क्यों किया ?

Ans :- हामिद खाँ को गर्व था कि एक हिंदू ने उनके होटल में खाना खाया। साथ ही वह लेखक को मेहमान भी मान रहा था। इसलिए हामिद खाँ ने खाने के पैसे नहीं लिए।

(5) मालाबार में हिंदू – मुसलमानों के परस्पर संबंधों को अपने शब्दों में लिखिए।

(6) तक्षशिला में आगजनी की खबर पढ़कर लेखक के मन में कौन – सा विचार कौंधा ? इससे लेखक के स्वभाव की किस विशेषता का परिचय मिलता है ?


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *